40+ Zindagi Shayari In Hindi | ज़िंदगी शायरी हिंदी में

zindagi shayari, जिंदगी शायरी, कहना और पूछना तो बहुत है तुमसे ए ज़िंदगी,
बस बयां करने का तरीका और अलफ़ाज़ ढूंढ रहा हूँ I

"कहना और पूछना तो बहुत है तुमसे ए ज़िंदगी, बस बयां करने का तरीका और अलफ़ाज़ ढूंढ रहा हूँ I"

zindagi shayari in hindi, ज़िंदगी शायरी हिंदी में, ज़िंदगी को गणित की तरह समझने में लगे हुए है,
इसकी शुरुआत और अंत ढूंढ़ ने में लगे हुए है,
हर किसी के नजरों में खुद को बेहतर बनाने में लगे हुए है,
ना जाने क्यों हम अपने आप को समाज के हिसाब से ढलने में लगे हुए है I

"ज़िंदगी को गणित की तरह समझने में लगे हुए है, इसकी शुरुआत और अंत ढूंढ़ ने में लगे हुए है, हर किसी के नजरों में खुद को बेहतर बनाने में लगे हुए है, ना जाने क्यों हम अपने आप को समाज के हिसाब से ढलने में लगे हुए है I"

zindagi shayari 2 lines, ज़िंदगी शायरी, हर समझौते में समझदार ही क्यों झुकता है,
कोई झांक के देखे एक बार की वो अंदर से कितना टूटता है II

"हर समझौते में समझदार ही क्यों झुकता है, कोई झांक के देखे एक बार की वो अंदर से कितना टूटता है II"

New Daily Quotes

zindagi shayari image, जिंदगी शायरी इन हिंदी, कागज लिए-लिए हाथों में सोचता ही रह जाता हूँ,
जब तक रूह से राबता ना होती है, तब तक कुछ लिख नहीं पाता हूँ।

"कागज लिए-लिए हाथों में सोचता ही रह जाता हूँ, जब तक रूह से राबता ना होती है, तब तक कुछ लिख नहीं पाता हूँ।"

zindagi shayari sad, ज़िंदगी शायरी इन हिंदी, ज़िंदगी बेहतर बनाने में ज़िंदगी को ही वक्त नहीं दे रहे है। 
कल की परेशानी के चलते आज को जी नहीं पा रहे है I

"ज़िंदगी बेहतर बनाने में ज़िंदगी को ही वक्त नहीं दे रहे है। कल की परेशानी के चलते आज को जी नहीं पा रहे है I"

zindagi shayari status, ज़िन्दगी शायरी इन हिंदी, आजकल लोग अपने आप से ज्यादा मोबाइल सम्भाल के रखते है,
क्योंकि रिश्ते सारे अब इसी में कैद हो के रहने लगे है I

"आजकल लोग अपने आप से ज्यादा मोबाइल सम्भाल के रखते है, क्योंकि रिश्ते सारे अब इसी में कैद हो के रहने लगे है I"

zindagi shayari image download, ज़िन्दगी शायरी हिंदी में, हर ख्वाब और हर ख्वाहिशें पूरी नहीं होती,
हर किसी के ज़िंदगी में आप जरुरी नहीं होते ।

"हर ख्वाब और हर ख्वाहिशें पूरी नहीं होती, हर किसी के ज़िंदगी में आप जरुरी नहीं होते ।"

zindagi shayari in hindi font, मेरी जिंदगी शायरी, ज़िंदगी और अपनों के कुछ सवालों का हल करना है,
लेकिन अभी अभी पता चला की सब को एक न एक दिन मरना है।
किसी के सवालों का पता नहीं, लेकिन अब संभालना चाहता हूँ, बिन रुके चलना चाहता हूँ I

"ज़िंदगी और अपनों के कुछ सवालों का हल करना है, लेकिन अभी अभी पता चला की सब को एक न एक दिन मरना है। किसी के सवालों का पता नहीं, लेकिन अब संभालना चाहता हूँ, बिन रुके चलना चाहता हूँ I"

akeli zindagi shayari, व्यस्त जिंदगी पर शायरी, ज़िंदगी के सही और गलत के बीच में क्या है,
और जो सही है वो सही क्यों नहीं लगता,
और जो गलत है वो सही क्यों लगता,
सही और गलत का फैसला आखिर कौन करता है II

"ज़िंदगी के सही और गलत के बीच में क्या है, और जो सही है वो सही क्यों नहीं लगता, और जो गलत है वो सही क्यों लगता, सही और गलत का फैसला आखिर कौन करता है II"

zindagi shayari dp, जिंदगी पर शेर, अनजान राहों पर चल रहा था, ज़िंदगी से मुलाकात हो गई।

"अनजान राहों पर चल रहा था, ज़िंदगी से मुलाकात हो गई।"

zindagi shayari image, जिंदगी बहुत छोटी है शायरी, ज़िंदगी हर बेबसी पर मुस्कुराती है और कहती है की, 
अगर आज खुद पर भरोसा करेगा,
तो कल सब तुझ पर भरोसा करेंगे II

"ज़िंदगी हर बेबसी पर मुस्कुराती है और कहती है की, अगर आज खुद पर भरोसा करेगा, तो कल सब तुझ पर भरोसा करेंगे II"

ज़िंदगी के हर दर्द को सहता जा, और अपनी मंज़िल की ओर बढ़ता जा II

हमारा हाल बस उनके एक सवाल से ठीक हो जाएगा,"कैसे हो आप?"

जब से वक्त बेचना छोड़ दिया, अपने आप ज्यादा लगने लगा हूँ।

हम सब इस धरती के मेहमान है, मालिक नहीं।

अक्सर हम गलत वक्त में ही, सही सफर पर निकलते है।

गणित व्यापारी के लिए अच्छी है, रिश्तेदारी के ली नहीं।

जब से अपने लिए वक्त निकालने लगा हूँ, औरों के लिए बचता ही नहीं।

इस दुनियां में सब कुछ एक जैसा नहीं चलता, कुछ आपके खिलाफ तो कुछ आपके साथ चलता है।

मैं नहीं पर मेरी कोशिशें, बहुत ईमानदार है।

जब से मैं आज में रहने लगा हूँ, कल की फ़िक्र नहीं रहती अब।

जो मज़ा देखने में है वो मज़ा बोलने में नहीं, इसलिए देखो और आगे बढ़ो।

किताबों ने नहीं सड़कों ने सिखाया है ज़िंदगी जीने का हुनर।

आपकी पसंद ही आपको, आपके किरदार से रु ब रु करवाती है।

अगर किसी को कुछ देना चाहते हो, तो सबसे पहले उनको इज़्ज़त दो।

मंज़िल पहुंचने के बाद पता चला की, मंज़िल से अच्छा तो सफर होता है।

समझदारी एक कला है, और इस दुनिया में सब कलाकार नहीं है।

अगर कुछ कर रहे हो तो करते रहे, क्योंकि छोड़ देने से तो वैसे भी कुछ नहीं मिलेगा।

ये दुनिया एक रंगमंच है, अपने किरदार को समझे फिर आगे की और निकलें।

ना कहीं ठहरना है और ना किसी से मिलना है, दुनियां में आये है तो अपने हिसाब से घूमना है और चले जाना है।

कहते है क्या लेकर आये थे, क्या ले कर जाओगे। मैं कहता हूँ, एक दिल ले के आये, आपका दिल ले के जायेंगे।

आप कितनी रफ़्तार से चल रहे है, उससे ज्यादा जरुरी है की आप सही दिशा में चल रहे है या नहीं।

रास्ते बहुत है इस दुनिया, मंज़िल वैसी ही मिलेगी जिस रास्ते पर चलोगे।

सफल होने का एक वक्त है, जिस वक्त आप काम करना शुरू करते है।

ज़माना सदियों तक उसको याद रखता है, जो सिर्फ अपने लिए नहीं जीता है।

इस दुनिया की सबसे बड़ी सच्चाई, समझौता है।

अब किसी और से बात करने में दिल नहीं लगता, जब से मैंने अपने आप से बात करना शुरू किया है।

Read More